पथरी का सफल इलाज़ ( Successful cure of stones )

  1. पथरी एक दर्दनाक बीमारी-  पथरी का सफल इलाज़ 

आजकल पथरी एक आम समस्या बन गई है जो कि पुरुषों में ज्यादा देखने को मिलती है।

आज की युवा पीढ़ी ज्यादातर  पथरी का शिकार हो रही है।क्योंकि ज्यादातर काम बैठने का बढ़ गया है और शारिरिक मेहनत कम हो गई है जो कि एक कारण ये भी है पथरी बनने का।

हमारे खानपान के बिगड़ने से भी पथरी stone की समस्या होती है, कम पानी पीना या यूरिन मूत्र को रोकने पर भी पथरी की समस्या हो जाती है।

पथरी कैल्शियम एवं ऑक्सीलेट पदार्थो के डिपाजिट हो जाने से बन जाती है जो कि गुर्दे kidney और पित्त की थैली में बनती है जिसका इलाज न करने पर दिन प्रतिदिन बड़ी होती जाती है।

पथरी के लक्षण:-

1. कमर के पीछे के हिस्से जहाँ गुर्दा किडनी             होती है वहां असहनीय दर्द होना।

2. मूत्र का रुक जाना।

3. मूत्र मे जलन या खून आना।

4. उल्टी आना आदि पथरी के लक्षण है।

:- पथरी का सफल इलाज़

हम आपको पथरी का सफल इलाज़ बताने जा रहे है जो कि 99% काम करता है लेकिन ये नुस्खा 10 mm की पथरी के लिए लाज़बाब है।

मूली का प्रयोग:- पथरी का सफल इलाज़

मूली के रस को सुबह खाली पेट पी लीजिये ऐसा नियमित 15 दिन तक कीजिये साथ ही दिनभर में 3 से 4 लीटर पानी पीजिये।

:- splcwo.org

पत्थर चट्टा के पौधे के 2-3 पत्ते लें और सुबह खाली पेट चबाकर खाकर 1 घंटे तक कुछ न खाए ये पथरी को छोटा करता है और दिन भर पानी पियें। लगभग 15 दिन नियमित लें। फायदा हो तो 15 दिन और ले लें। अगर पत्थर चट्टा न मिले तो इसकी होम्योपैथी दवा ले सकते हैं जिसका नाम berberis vulgaries है। mother tincture में लीजियेगा। इसकी 20-20 बून्द आधे कप से कम पानी मे डाल के सुबह दोपहर शाम ले सकते हो अगर पथरी 5 mm तक है तो 15-15 बून्द लीजियेगा। ये भी पथरी का सफल इलाज़ है।

परहेज़:-

पथरी जिसको बन गई हो उसको दूध या दूध से बनी चीजों का सेवन नही करना चाहिए।

टमाटर,बैगन,बीजदार सब्जी का सेवन न करे,

कैल्सियम और ऑक्सीलेट वाले पदार्थ का सेवन बंद कर दें।

क्या खाएं:-

अधिक से अधिक पानी पियें।

छाछ का सेवन करे।

कुल्थी की दाल खाएं ये पथरी को छोटा करती है।

मूली का सेवन करें

सेव apple का सेवन करें।

जौ की बनी हुई बियर पीने से भी पथरी घुल जाती है।

ये था पथरी का सफल इलाज़ इसको आजमाइए और दर्द से छुटकारा पाइये।अगर दर्द ज्यादा हो तो डॉक्टर से सलाह जरूर जरूर लें।