News

फ्री में संस्था के प्लेटफार्म से 1 लाख रुपए महीना कमायें |

Earn Rs 1 Lakh Every Month From the Organisation’s Platform for free.

आज के समय में बेरोजगारी इतनी ज्यादा हो गयी है कि लोगों को अपने घर का खर्चा चलाना बहुत मुश्किल हो गया है | क्योंकि लोगों के पास काम नहीं है | लाखों रूपए पढ़ाई – लिखाई में खर्च करने के बाद भी आज 10 हजार रूपए महीने की नौकरी भी नहीं मिल पा रही है | सरकारी नौकरी पाने के चक्कर में हजारों रूपए कोचिंग और सरकारी नौकरी के फॉर्म भरने में हर महीने खर्च हो जाने के बाद भी कोई नौकरी नहीं मिलती है | घर से बहार कंही कोई काम – धंधा देखने जाते है तो उसमें भी हमारे बहुत पैसे किराये या पेट्रोल में खर्च हो जाते है |

यानि आज सब कुछ करने के बाद भी कोई नौकरी नहीं मिलती है फिर व्यक्ति MLM कंपनियों के साथ जुड़ते है और फिर उन कंपनियों के जो काम होते है वो ऐसे होते है की हर कोई कर नहीं सकता है | कोई बोलता है, ज्यादा पैसा कमाना है तो ज्यादा सामान बेचो, कोई कहता है लोगों से शौपिंग करने के लिए बोलिए जितने ज्यादा लोग शौपिंग करेंगे उसमें से आपको कमीशन मिलेगा | इस प्रकार लोग न जाने अब तक कितने रूपए ऐसी कंपनियों में जोइनिंग करने में खर्च कर चुके है, फिर भी कोई इनकम का अच्छा साधन नहीं बना है |

ज्यादातर MLM कंपनी लोगों से पैसे लेकर ही लोगों को बंटती है, जिसे आप मनी सर्कुलेशन बोल सकते है | यानि कि इन कंपनियों के पास ऐसा कोई इनकम करने का प्लेटफार्म नहीं होता है | जहाँ से पैसे कमायें जा सकते हो | ये केबल लोगों का पैसा इन्वेस्ट करवाती है और उसी में से सभी लोगों को पैसे बंटती है और जब लोग पैसे इन्वेस्ट करना बंद कर देते है तो भाग जाती है या बंद हो जाती है | अगर आपने ऐसी कंपनी में किसी का पैसा लगवाया होगा तो वो व्यक्ति आपको बहुत कुछ बोलेंगे यानी की आप अपना पैसा भी खो देते है और साथ में दूसरों का भी | ऐसी कंपनी में जहाँ लोग पैसे कमाने के सपने देखते है उनके ऊपर उल्टा कर्जा हो जाता जिसे पूरी जन्दगी चुकाना पड़ता है |

तो जैसे की मैंने आपको ऊपर बताया है, अगर ऐसी कोई कंपनी है जो आपको बोल रही है कि :-
आप इसमें इतने रूपए इन्वेस्ट कीजिये तो आपको इतना फायदा होगा |
आप यहाँ से शौपिंग करेंगे तो आपको इतना फायदा होगा |
आप ये सामान बेचेंगे तो आपको इतना कमीशन मिलेगा |
आप इतने लोगों को जोड़ेंगे तो आपको इतना पैसा मिलेगा |

यानी कि ऐसी कोई कंपनी जिसके पास इनकम करने का कोई प्लेटफार्म न हो जहाँ से लोगों को जोड़ने के अवाला किसी अन्य तरीके से इनकम न होती हो तो ऐसी कंपनी को कभी भी ज्वाइन मत करना | हम ये मानते है कि बिना लोगों को जोड़ें इनकम नहीं हो सकती है | लेकिन उन जुड़ें हुए लोगों के पास कोई दूसरा काम भी होना चाहिए जहाँ से इनकम होती हो | लेकिन लोगों को जोड़ने के अलावा अगर उसमें कोई बड़ा इन्वेस्टमेंट है तो वो आपके लिए बहुत बड़ा रिस्क हो सकता है |

अगर आप ऐसी किसी कंपनी को ज्वाइन भी करते है तो एक बात जरूर देख लें की जिस कंपनी को आप ज्वाइन कर रहे है | उसमें आपका पैसा कितना लग रहा है | किसी कंपनी में किसी एक व्यक्ति का अकाउंट मैनेज करने में लगभग 1 हजार रूपए हर साल खर्च हो जाता है | तो अगर किसी कंपनी में अधिकतम जोइनिंग का खर्चा 1000 रूपए तक है तो आप इसका रिस्क ले सकते है | इनकम न होने पर 1000 रूपए कोई बड़ी बात नहीं है जिसे आप झेल सकते है | लेकिन अगर कोई कंपनी इससे भी ज्यादा पैसे आपसे जोइनिंग के लिए लेती है तो फिर समझ लीजिये ये आपके लिए बड़ा रिस्क बन सकता है जो आगे चलकर आपको परेशानी में डाल सकता है |

तमाम तरह की उल्टी – सीधी कंपनी से बचाने और लोगों के साथ फ्रॉड न हो इसके लिए आपकी संस्था “स्पेशल चाइल्ड वेलफेयर आर्गेनाईजेशन” काम कर रही है | संस्था ने अपने खुद के तमाम ऐसे काम शुरू किये है | जिनको आप अकेले बिना किसी इन्वेस्टमेंट के अपने घर से ही कर सकते है | अब तक संस्था से 80 लाख से भी ज्यादा लोग जुड़ चुके है जो हर महीने अपने घर से ही रोजाना 1 घंटे मोबाइल से काम करके अच्छी – खासी इनकम कर लेते है | संस्था के प्लेटफार्म, संस्था से जुड़ें लोगों के लिए बिलकुल फ्री है कोई भी व्यक्ति संस्था के साथ जुड़ सकता है और अपने घर से बिलकुल फ्री में संस्था के प्लेटफार्म का प्रयोग करके 1 लाख रूपए महिना या उससे भी ज्यादा कमा सकता है |

संस्था की इनकम कहाँ से होती है ?

किसी भी प्लेटफार्म से जुड़ने से पहले आप ये अच्छे से जान लीजिये की उस प्लेटफार्म पर इनकम कहाँ से होती है | कहीं कोई ऐसा काम तो नहीं है कि वो आगे चलकर बंद हो जाएँ | तो हम आपको बता दें | संस्था “स्पेशल चाइल्ड वेलफेयर आर्गेनाइजेशन” की इनकम केबल संस्था के प्लेटफार्म से ही होती है | संस्था ने आज तक किसी से भी जोइनिंग के लिए कोई पैसा नहीं लिया है | हर व्यक्ति कि जोइनिंग और उसके अकाउंट को मैनेज करने में जो खर्चा होता है उसका भी 80% पैसा संस्था अपनी तरफ से देती है और जो व्यक्ति संस्था के साथ जुड़ता है उसको केबल 20% खर्चा दी देना होता है | संस्था में किसी भी प्रकार का कोई इन्वेस्टमेंट नहीं है | ये 20% पैसा उन लोगों को जाता है जो आपका रजिस्ट्रेशन करते है | न की संस्था को | आप अपना सभी काम खुद करेंगे तो आपको ये भी देने की जरूरत नहीं है | ये पैसा तो वो व्यक्ति लेता है जिससे आप अपना काम करवाओगे, न कि संस्था लेती है |

संस्था के 24 YouTube चैनल है और 12 वेबसाइट है | जिन सभी के साथ अब तक लगभग 80 लाख से भी ज्यादा लोग जुड़ चुके है और हर दिन हजारों नए लोग जुड़ते है | संस्था के YouTube चैनल्स पर संस्था से जुड़ें लोग तरह – तरह की विडियो बिलकुल फ्री में बिना कोई खर्चा दिए अपलोड करते रहते है, विडियो अपलोड करने का पूरा खर्चा संस्था देती है विडियो अपलोड करने वाली टीम को और वो विडियो चलती है | जिनसे संस्था को हर महीने अच्छी खासी इनकम होती रहती है | इसी प्रकार संस्था की वेबसाइट पर संस्था से जुड़ें लोग तरह – तरह की जानकरी की ब्लॉग पोस्ट लिखते रहते है जिनको भी पूरी दुनियां से लोग पढ़ते रहते है और संस्था की इनकम होती रहती है |

अब आप खुद ही जोड़ लीजिये यानि एक महीने में संस्था से जुड़े और न जुड़ें लोग सभी चैनल और वेबसाइट पर 2 – 2 रूपए की भी विडियो देखेंगे या वेबसाइट पर ब्लॉग पढेंगे तो हर महीने संस्था के सभी चैनल और वेबसाइट पर 4 से 5 करोड़ लोग विडियो देखते है या वेबसाइट से जानकरी लेते है तो यदि हर व्यक्ति से 2 रूपए की भी इनकम हर महीने मानकर चलते है तो संस्था को हर महीने कितने करोड़ रूपए तक का प्रॉफिट हो सकता है | और जो प्रॉफिट संस्था हर महीने अपने प्लेटफार्म से कमाती है वो पूरा पैसा संस्था के साथ जुड़ें लोगों में बांटा जाता है | इसलिए आज 80 लाख से भी ज्यादा लोग इस संस्था के साथ जुड़ चुके है | क्योंकि यहाँ हर व्यक्ति इस संस्था का मालिक है जो जितना ज्यादा सहयोग इस संस्था को देता है उसको उतना ही ज्यादा पैसा हर महीने मिलता है | ऐसा नहीं है की अगर किसी व्यक्ति को इस महीने 1 लाख रूपए की पेमेंट मिली है तो उसने कोई इस महीने एक लाख रूपए का काम किया है | काम तो उसने बहुत कम का किया होता है 2 रूपए से 10 रूपए के बीच में लेकिन वो व्यक्ति संस्था को बहुत ज्यादा सपोर्ट करता है या पिचले 4 या 5 साल से रेगुलर संस्था के साथ काम कर रहा है तो ऐसे लोगों को हर महीने थोड़ा काम करने पर या बिना काम करने पर भी अच्छा खासा पैसा मिलता है | क्योंकि ऐसे लोग संस्था को आगे बढ़ाने में अपना बहुत योगदान पहले ही दे चुके है |

संस्था के साथ आप क्या – क्या काम कर सकते है ?

वैसे तो संस्था के साथ करने के लिए बहुत काम है लेकिन आप केबल 5 काम कीजिये | संस्था के साथ काम करने की सबसे अच्छी बात ये है की आपको अपने घर से बाहर कहीं नहीं जाना है | आप अपने घर पर रहकर एक कमरे के अन्दर बैठकर केबल अपने मोबाइल से काम कर सकते है | यहाँ ऐसा नहीं है कि आपको अपने घर से बहार निकालने की जरूरत पड़ेगी | जिन लोगों के पास घर भी नहीं है ऐसे लोग किसी सड़क, पार्क या खेत में भी खड़े हो कर या बैठकर काम कर सकते है |

इस संस्था में काम करने वाले लोगों को काम करने के लिए केबल एक चीज की आवश्यकता पड़ती है और वो चीज हर किसी के पास पहले से ही होती है और वो चीज आपका मोबाइल फ़ोन है | अगर आपके पास मोबाइल फ़ोन है तो आप उसी से काम कर सकते है | तो चलिए देखते है वो पांच काम कौन से है जिन्हें आप अकेले अपने मोबाइल से ही कर सकते है |

 

1. विडियो देखकर जानकारी लेने का काम :-

सबसे पहला काम ऐसे लोगों के लिए है जो बोलते है कि मुझे तो कोई काम करना आता ही नहीं है | तो ऐसे लोग केबल संस्था के सभी YouTube चैनल्स की विडियो देखते रहें और विडियो में दी गयी जानकारी को अच्छे से समझते रहें | क्योंकि विडियो में दी गयी जानकारी आपके लिए आपकी ट्रेनिंग है जिससे आप अपनी महीने की इनकम कैसे ज्यादा कर सकते है वो सब पता चल जायेगा | विडियो देखकर सीखने का काम आपको हर दिन कम से कम 1 घंटे करना है और ये काम आपको तब करना है जब आप फ्री हो यानी कभी भी कर सकते हो सुबह – शाम, दोपहर या रात को, अपना कोई काम छोड़े बगेर | विडियो देखकर भी आप हर महीने 1 लाख रूपए तक बड़े ही आराम से कमा सकते है | ( इसकी पूरी जानकरी के लिए यहाँ क्लिक कीजिये | )

 

2. ब्लॉग पढ़कर जानकारी लेने का काम :-

ये काम ऐसे लोगों के लिए है जो लोग ये बोलते है कि मैं एक दिन में 1 घंटे से ज्यादा विडियो देखकर जानकारी नहीं ले सकता हूँ तो ऐसे लोग अपने फ्री समय में अपनी ट्रेनिंग को पूरा करने के लिए और अपनी महीने की इनकम बढ़ाने के लिए ब्लॉग पोस्ट पढ़कर भी जानकारी ले सकते है | ( इसकी पूरी जानकरी के लिए यहाँ क्लिक कीजिये | )

नोट :- ऊपर बताएं गए दोनों काम संस्था आपसे इसलिए करवाती है जिससे आप संस्था के साथ अच्छा काम कर सकें या आप अपना खुद का भी अलग काम करें तो उसको अच्छे से कर सकें | ऊपर बताएं हुए दोनों काम आप बिलकुल फ्री में कर सकते है अगर आपको केबल सीखना है तो | लेकिन अगर आप चाहते है कि मुझे मेरे सीखने के साथ साथ संस्था से हर महीने पैसे भी कमाने है तो फिर उसके लिए आपको संस्था की वेबसाइट WWW.SPLSTUDY.COM पर अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा |

SPLSTUDY.COM पर रजिस्ट्रेशन कैसे होता है :-

संस्था में रजिस्ट्रेशन कराने का काम संस्था की अलग यूनिट करती है जिसका नाम है – “SPL EDUCATION AND ENTERTAINMENT” जिसमें एक बहुत बढ़ी संख्या में लोग अपने घर से ही काम करते है | इस यूनिट में केबल ऐसे ही लोग काम कर सकते है जिनको संस्था से जुड़ें हुए कम से कम 3 साल पूरे हो गए हो और उन्होंने संस्था से कम से कम 10 लाख रूपए की कमाई कर ली हो और उनकी महीने की इनकम 1 लाख या उससे अधिक हो | क्योंकि ये बहुत ही रिस्क का काम होता है | इसके लिए एक टीम बनाई गयी ही जिसका नाम है SPL टीम | SPL टीम को संस्था की तरफ से फ्री में ट्रेनिंग भी दी जाती है जिससे वो अपना काम अच्छे से कर सकें और संस्था से जुड़ने वाले लोगों को किसी भी प्रकार की कोई परेशानी न हो |
SPL STUDY में रजिस्ट्रेशन का काम पूरा करने और SPL स्टडी से जुड़ें लोगों को हर महीने पैसे भेजने के लिए प्रत्येक 10 हजार लोगों पर 10 लोगों की टीम होती है जो SPL STUDY के साथ जुड़ें लोगों को हर महीने उनके द्वारा किये गए काम का पैसा उनके अकाउंट तक पहुँचाने या किसी अन्य समस्या का समाधान करने के लिए काम करते है |
SPL STUDY में एक व्यक्ति का रजिस्ट्रेशन करने का खर्चा टोटल 2000 रूपए का आता है जिसमें – प्रति व्यक्ति 240 रूपए वेबसाइट का 1 साल का खर्चा होता है | 60 रूपए 1 साल का SMS खर्चा होता है 5 रूपए प्रति महीने के हिसाब से | 500 रूपए SPL के 10 लोगों को दिया जाता जो 10 लोग होते है 50 रूपए प्रति व्यक्ति जो आपके लिए पूरी साल काम करते है | जो व्यक्ति आपका रजिस्ट्रेशन करवाता है अपनी स्पोंसर आई डी से उसको 50 रूपए दिए जाते है | और 150 रूपए प्रति व्यक्ति SPL EDUCATION AND ENTERTAINMENT को मैनेजमेंट के लिए जाते है | बच्चा हुआ 1000 उसके सीनियर्स को हर महीने एक्स्ट्रा इनकम के रूप में मिलता रहता है |

इस प्रकार SPL STUDY में एक व्यक्ति का रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए संस्था को पूरा 2000 रूपए खर्च करना होता है, जिसमें से 90% पैसा संस्था देती है यानी 1800 रूपए का खर्चा संस्था खुद उठती है और 10% खर्चा उसको देना होता है, जिसका रजिस्ट्रेशन होता है यानि 200 रूपए |

कुल मिलकर बात करें | अगर आपको SPL STUDY में अपना रजिस्ट्रेशन करना है तो आपको 200 रूपए अपने रजिस्ट्रेशन का खर्चा देना होगा | बाकी का खर्चा संस्था करेगी | उसके बाद आपको हर महीने आपके विडियो देखने और ब्लॉग पोस्ट पढ़ने का पैसा मिलना शुरू हो जायेगा | आपको जो इनकम मिलेगी वो आपकी टीम के अनुसार मिलेगी | जैसे अगर किसी महीने आपने 4 रूपए की विडियो देखी है या ब्लॉग पोस्ट पढ़ी है और आपकी टीम 1000 लोगों की है तो आपकी इनकम से आपकी टीम को गुणा किया जायेगा और अगर आपको ज्वाइन किये हुए 6 महीने हो चुके है तो फिर महीने से गुणा करके टोटल इनकम मिलेगी जैसे :- 4x1000x6=24000/- यानी आपने काम किया केबल 4 रूपए का लेकिन आपको पैसे मिलेंगे 24000/- रूपए  | ( इसकी पूरी जानकरी के लिए यहाँ क्लिक कीजिये | )

 

3. विडियो बनाकर पैसे कमायें :-

जिन लोगों के पास अच्छे कैमरे क फ़ोन है और कम से कम हिंदी बोलना आता है तो ऐसे लोग संस्था के YouTube चैनल्स के लिए अपने घर से ही विडियो बनाकर भेज सकते है और आपकी विडियो से होने वाली इनकम हर महीने ले सकते है | आपकी एक विडियो से कितनी इनकम होगी ये इस बात पर निर्भर करती है कि आपकी विडियो को कितने लोग देखते है और आपकी विडियो से कितनी कमाई होती है | संस्था के सभी चैनल्स पर 80 लाख से भी ज्यादा सब्सक्राइबर है तो आपकी विडियो थोड़ी अच्छी हुई तो करोड़ो व्यूज आपकी विडियो पर आसकते है, जिससे आपकी महीने की इनकम लाखों रूपए महिना हो सकती है | ( इसकी पूरी जानकरी के लिए यहाँ क्लिक कीजिये | )

4. ब्लॉग पोस्ट लिखकर पैसे कमायें :-

जो लोग विडियो नहीं बना सकते है जैसे की महिलाएं वो ब्लॉग पोस्ट लिखने का काम कर सकती है | ब्लॉग पोस्ट को भी जितने ज्यादा लोग पड़ेंगे आपको हर महीने उतना ही ज्यादा पैसा मिलेगा |

नोट : – अगर आप विडियो बनाकर या ब्लॉग पोस्ट लिखकर पैसे कमाना चाहते है तो उसके लिए आपको संस्था की वेबसाइट : SPLCASH.COM पर अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा | ( इसकी पूरी जानकरी के लिए यहाँ क्लिक कीजिये | )

5. बेरोजगार लोगों को रोजगार देकर :-

जो लोग ऊपर बताएं हुए कामों में से ही कोई काम नहीं कर सकते है या अपनी महीने की इनकम को डबल या उससे भी ज्यादा करना चाहते है तो ऐसे लोग संस्था में बेरोजगार लोगों को रोजगार दिलवा सकते है यानी ऐसे लोग जो संस्था के साथ जुड़कर पैसे कमाना चाहते हो ऐसे लोगों के रजिस्ट्रेशन करवाने में उनकी मदद कर सकते है | इस संस्था में किसी का रजिस्ट्रेशन कराने के लिए भी आपको किसी को खोजने की जरूरत नहीं है | जिन लोगों को संस्था के साथ अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा वो लोग खुद आपसे संपर्क करेंगे यानी आपके पास फ़ोन करेंगे | आपको केबल उनका रजिस्ट्रेशन सही से करवाना है | जब भी किसी व्यक्ति का आप रजिस्ट्रेशन करवाते है चाहे SPLSTUDY.COM पर या SPLCASH.COM पर तो अपने स्पोंसर लिंक से ही कराएँ या अपनी स्पोंसर आई डी से कराएँ जिससे उस व्यक्ति का रजिस्ट्रेशन करवाने का आपको पैसा मिलेगा | SPL STUDY से प्रति व्यक्ति 50 रूपए मिलेगा और SPLCASH से प्रति व्यति 200 रूपए मिलेगा | इसके अलावा रजिस्ट्रेशन कराने का जो फायदा है वो ये है की जिन लोगों का अपने रजिस्ट्रेशन कराया है और वो लोग संस्था के साथ काम भी करते है तो उनकी जो इनकम होगी उसका लगभग 10% पैसा आपको भी मिलेगा जैसे अगर आपने 10 लोगों का रजिस्ट्रेशन अपनी स्पोंसर आई डी से कराया है और वो 10 लोग एक – एक लाख रूपए महिना संस्था से कमाते है तो आपको भी 10% सभी 10 लोगों से मिलेगा तो बिना काम किये आपको 1 लाख रूपए की इनकम हो जाएगी और अगर आप भी हर महीने काम करते है तो आप जो काम करेंगे उसका पैसा आपको अलग से मिलेगा | ( पूरी जानकारी के लिए यहाँ क्लिक कीजिये |)

अगर आपने अभी तक संस्था में अपना रजिस्ट्रेशन नहीं किया है तो आज ही कर लीजिये, दोनों वेबसाइट के रजिस्ट्रेशन लिंक नीचे दिए हुए है और अगर अपने अपना रजिस्ट्रेशन कर लिया है और अपनी आई डी एक्टिवेट नहीं की है तो आज ही कर लीजिये क्योंकि जैसे – जैसे आपका रजिस्ट्रेशन पुराना होता जायेगा आपकी महीने की इनकम भी बढ़ती जाएगी |

SPL STUDY Registration Link
SPLCASH Registration Link

जब हम किसी जरूरत मंद व्यक्ति की मदद करते है तो हमें दिखने में तो ऐसा लगता है की हम किसी अन्य व्यक्ति की हेल्प कर रहे है | लेकिन वास्तव में हम अपनी ही मदद कर रहे होते है | ये मदद का नियम कहता है | ऐसा ही हमारे धर्म ग्रंथों में भी लिखा है कि यदि हम किसी का सहयोग करते है तो वो सहयोग वास्तव में हम अपना ही कर रहे होते है | और जब हमें जरूरत होती है तब वही सहयोग हमें दस गुना होकर वापिस मिलता है |

अगर हम मदद करेंगे तो हमें भी मदद मिलेगी | If we help we will also help.

एक बार की बात है की एक पिता और पुत्री एक गाँव में रहते थे | पिता जिसकी उम्र करीब 35 साल थी और उसकी पुत्री जिसकी उम्र करीब 8 साल थी | दोनों पिता – पुत्री एक घर में अकेले रहते थे | कहीं दूर गाँव से आकर नए गाँव में बसे थे | इसलिए उस गाँव में कोई भी उनकी जान पहचान का नहीं था | इसलिए वे दोनों ही अपने परिवार में थे | पिता बहुत ही खुश मिजाज का था और उस गाँव में अकेला था | इसलिए उसने सोचा क्यों न इस गाँव में कुछ लोगों से जान पहचान कर ली जाएँ |

तो उसने लोगों से जन पहचान बढ़ने के लिए एक फ्री औसधी देने का काम शुरू किया | जो की उसके परिवार में पहले से कोई देशी दवा देता था | यानी की उसके दादा – परदादा इस तरीके के देशी इलाज जानते थे | तो जब भी गाँव में किसी को कोई बुखार, शर्दी – खासी जैसी बिमारी होती तो वो उसके घर ही उसको देशी दावा देने चला जाता था | ये काम उसने सुबह शाम करना शुरू कर दिया था | जब भी उसे समय मिलता था तो जंगल से देशी जड़ी – बूटी खोज लाता था और उन्ही से साधारण बीमारियों की दवा बनाकर रख लेता था | बाकी समय में वो पास के शहर में ही किसी कम्पनी में नौकरी करने जाता था जिससे उनके परिवार का खर्च चलता रहता था | क्योंकि जो वो गाँव वाले लोगों को दवा देता था वो तो वह मुफ्त में ही देता था | इसके पीछे उसका केबल एक ही कारण था की जिससे नए गाँव में उसकी लोगों से जान पहचान तब भी हो जाएगी |

इस प्रकार दोनों पिता और बेटी की जिंदगी नए गाँव में अच्छे से गुजरने लगी | एक बार उसकी कंपनी ने किसी काम से पिता को 15 दिन के लिए बाहर भेज दिया | जब वो गाँव से गया तो अपने पडोसी और गाँव वालों को बोल गया कि वो उसकी बेटी का ख्याल रखें | वो 15 दिन कंपनी के काम से बाहर जा रहा है |

इस प्रकार उसकी बच्ची गाँव में ही रह गयी और वो परदेश चला गया | एक दिन अचानक उसकी बेटी बच्चों के साथ खेलती – खेलती गिर गयी और बेहोश हो गई | जब गाँव वालों ने देखा की किसकी बच्छी है तो पता चला की ये तो नए वैद्य जी की लड़की है वो तो कंपनी के काम से बहार गए है | उस समय फ़ोन नहीं होता था | इसलिए तुरंत ही कोई जानकारी नहीं दी जा सकती थी | तो गाँव वाले बुजर्ग लोगों ने बोला वैद्य जी की एक लड़की की देखभाल भी अगर हम उनके पीछे नहीं कर पाए तो हमारे जीवन का कोई मूल्य नहीं रहेगा | क्योंकि वैद्य जी अकेले ही सभी के इलाज के लिए घर – घर दौड़े चले आते थे | इसलिए गाँव से कुछ लोग लड़की को पास के अस्पताल ले गए |

पास के अस्पताल में जब डॉक्टर ने देखा तो कुछ दबाई देकर बड़े अस्पातल के लिए रवाना कर दिया कि इसका इलाज मेरे पास नहीं है | मुझे इस बच्ची की बीमारी समझ नहीं आरही है | आप इस बच्ची को तरंत ही शहर के अस्पताल ले जाईये | जब बच्ची पास के शहर के हॉस्पिटल में पहुंची और जांच हुई तो पता चला की बच्छी के दिल में छेद है | अगर 24 घंटे के अन्दर ऑपरेशन नहीं हुआ तो ये बच्ची बचेगी नहीं | जब ये बात गाँव वालों को पता चली तो उन्होंने डॉक्टर से ऑपरेशन का खर्च पूंछा तो डॉक्टर ने बताया की 20 हजार रूपए का खर्च आएगा | उस समय 20 हजार रूपए बहुत बड़ी कीमत होती थी | क्योंकि एक व्यक्ति को उस समय काम करने का 300 रूपए महिना मिलता था | यानी 10 रूपए रोज |

तो जो गाँव वाले लोग साथ में गए थे उनके पास भी इतने रूपए नहीं थे| तो उन्होंने डॉक्टर से बोला की डॉक्टर शाहब अभी तो हमारे पास इतने पैसे नहीं है | लेकिन आप ऑपरेशन की तैयारी कीजिये हम अपने गाँव जाकर शाम तक पैसे लेकर आते है |

हॉस्पिटल से एक व्यक्ति गाँव आया और उसने गाँव में जब ये पूरी बात बताई तो गाँव में किसी के भी पास इतने रूपए नहीं थे | फिर एक बुजुर्ग व्यक्ति ने पुछा अपने गाँव में कितने परिवार रहते है | तो किसी ने बताया कीअपने गाँव में टोटल 1000 परिवार रहते है | बुजुर्ग बोला एक काम कीजिये सभी परिवार से 20 – 20 रूपए लीजिये | अगर कम पड़ेंगे तो फिर कुछ और इंतजाम करेंगे |

फिर क्या था 10 लड़के पूरे गाँव में घर – घर पैसे लेने के लिए निकल गए और उन्होंने एक ही बात बोली की जो हमारे गाँव में नए वाद्य जी आये थे उनकी बेटी का ऑपरेशन होना है और 20 हजार की जरूरत है और वैद्य जी गाँव से बाहर कम्पनी के काम से गए है और ऑपरेशन आज ही होना है | इसलिए गाँव के लोगों से निर्णय किया है की हर परिवार से 20 – 20 रूपए ऑपरेशन के लिए दिया जाएँ | अब वैद्य जी को तो सभी जानते थे | क्योंकि कभी न कभी तो वो उनके घर गए ही थे | दवा देने के लिए | इसलिए किसी ने बिना कोई सवाल किये 20 रूपए निकाल कर दे दिए | इस प्रकार उसी रात को वैद्य की जी लड़की का इलाज हो गया और लड़की की जिन्दगी बच गयी |

जब कुछ दिन बाद वैद्य जी वापिस गाँव आये और उनको जब पूरी बात पता चली और जब ये सुना की 20 हजार रूपए ऑपरेशन में खर्च हुआ है तो वैद्य जी बहुत ही परेशान हो गए | क्योंकि उस समय एक सामान्य व्यक्ति 20 हजार रूपए अपने पूरे जीवन में नहीं कमा सकता था तो किसी की इतनी बड़ी उधारी कैसे चूका पाता |

जब वैद्य जी ने पूंछा की पैसे किसने दिए है तो बताया की पूरे गाँव ने दिए है | और आपको उधार नहीं दिए है | अपनी बेटी के इलाज के लिए दिए है | जब आप पूरे गाँव के लोगों का इलाज मुफ्त में करते हो तो क्या हम इतना भी नहीं कर सकते है की आपकी बेटी के इलाज के लिए 20 रूपए भी दे सकें | तो इस प्रकार वैद्य जी के ऊपर किसी का भी 20 रूपए से ज्यादा का कर्ज ही नहीं हुआ और 20 रूपए कभी किसी ने वैद्य जी से लिए नहीं |

तो आप समझ ही गए होंगे की वैद्य जी की जो मदद लोगों ने की वो उसी का परिणाम था जो वैद्य जी ने गाँव वाले लोगों की बीमारियों का इलाज फ्री में करके की थी |

 

TYPES OF INCOME

(कमाई कितने प्रकार की होती है)

 

Types Of Income (कमाई के तरीके): Type Of Income Which Make You Rich

 

Type of income इस पोस्ट में, मैं आपको बताऊंगा कि इनकम यानी कि कमाई कितने तरह की होती है? और आपको किस तरह की इनकम के लिए काम करना चाहिए. ताकि आप अपने जीवन में पैसे की कमी को पूरा कर सकें और आप अपने हर सपने को सच कर सकें. जिसको करने के लिए आपने अपना ये कीमती इंसान का जन्म लिया है |

आपके मन में एक सवाल जरूर आता होगा कि :

” गरीब क्यों गरीब और अमीर क्यों और अमीर होते जाते है?”

आपने देखा होगा की बहुत से लोग बहुत अधिक मेहनत यानी हार्ड वर्क करने के बाद भी ज्यादा पैसे नहीं कमा पाते है

यानी की अमीर क्यों नहीं बन पाते है जबकि कुछ लोग बिना मेहनत के या बिना कुछ ख़ास काम किये अमीर कैसे बन जाते है?

तो दोस्तों आप आपका ये कंफ्यूजन दूर हो जाएगा और आप अच्छे से समझ जायेगें की आखिर ऐसा क्यों होता है?

तो चलिए में आपको सबसे पहले बताता हूँ की ये इनकम या कमाई होता क्या है?

What is Income? इनकम क्या होता है?

इनकम वो पैसा होता है, जो हमें किसी एक निश्चित समय के बाद लगभग एक निश्चित मात्र में प्राप्त होता रहता है .

जैसे – तनखा या सैलरी, किराया, पेंशन, बैंक से ब्याज या
किसी बिज़नस से आने वाला प्रॉफिट ऐसे ही और तमाम चीजें जिनसे हमें लगातार पैसे मिलते रहते है .

इनकम और पैसे कमाने में एक बहुत बड़ा फर्क होता है .
जी हाँ दोंस्तों अगर आप थोडा सा ध्यान देंगे तो आपको पता चल जाएगा की पैसा कमाने और इनकम कमाने में फर्क होता है |

जैसे – लाटरी यानी जुआ खेलने से भी पैसे कमाए जा सकते है,
लेकिन जुआ या लाटरी से हम रेगुलर पैसा नहीं कमा सकते है .

और इसलिए ये कहा जा सकता है की लाटरी से पैसा तो कमाया जा सकता है, लेकिन इनकम नहीं कमाया जा सकता .
इस तरह से अब आपको क्लियर हो गया होगा की इनकम कमाना और पैसा कमाना दोनों अलग-अलग बात है .

इसलिए आपको पैसा कमाने पर नहीं बल्कि इनकम कमाने पर ध्यान देना चाहिए .

तो चलिए अब जानते है की “इनकम कितने प्रकार का होता है और हमें अमीर बनाने के लिए कौन-सा इनकम कमाने पर ध्यान देना चाहिए?

TYPES OF INCOME? इनकम के तरीके ?

इनकम यानी कमाई तीन तरीके से की जाती है :

1. एक्टिव इनकम (Active Income)
2.पैसिव इनकम (Passive Income)
3. पोर्टफोलियो इनकम (Portfolio Income)

अब में आपको इन तीनों तरह की इनकम के बारें में विस्तार से बताता हूँ तो फिर आपको एक दम क्लियर हो जाएगा की कौन-सी इनकम कैसे होती है.

और आपको कौन-सी इनकम करने पर ध्यान देना चाहिए, जिससे आप भी अमीर बन सकें.

TYPES OF INCOME: 1. एक्टिव इनकम (Active Income)

एक्टिव इनकम वो इनकम होता है, जिस इनकम के लिए हमें एक्टिव रूप से काम करना पड़ता है.

यानी तब तक हम काम करते है सिर्फ तभी तक हमें पैसा मिलाता है. यानी काम बंद तो आपकी इनकम भी बंद हो जाती है.
एक्टिव इनकम में हम अपने टाइम के बदले पैसा कमा रहे होते है.

(we actually exchange money for time)

जैसे – किसी भी तरह की नौकरी से मिलाने वाली सैलरी, रोज की दहाड़ी, मजदूरी पर काम करने से मिलने वाली इनकम, या

कोई भी ऐसा बिज़नस या काम जिसमें हमारा होना जरूरी हो,

जैसे किराने की दुकान, या किसी अन्य तरह की दुकानदारी का बिज़नस जिसमें मालिक वहां पर रहता हो और एक्टिव रूप से काम करता हो.

इसके अलावा अगर कोई इंजीनियर, डॉक्टर, एडवोकेट, चार्टर्ड अकाउंटेंट भी अगर खुद ही काम करता है और पैसे कमाता है और वो जब अपनी ऑफिस खोलता है तभी उसको इनकम होती है.

और जब वो छुट्टी पर रहता है तो उसकी इनकम बंद हो जाती है, तो इस तरह के सभी इनकम को “ACTIVE INCOME” कहा जाता है|

अर्थात, सिर्फ एक्टिव इनकम कमाने से अमीर या धनी नहीं बना जा सकता है|
मैंने इस पोस्ट के शुरू में 2 सवाल पूंछे थे कि :

“ऐसा क्यों होता है, कि ज़िन्दगी भर बहुत ज्यादा मेहनत करने के बाद भी ज्यादातर लोग अमीर क्यों नहीं बन पाते है.”

तो इस सवाल का सबसे सही जवाब है –

“सिर्फ एक्टिव इनकम पर डिपेंड रहने के कारण ही ऐसा होता है.”

ज्यादातर लोग सिर्फ एक्टिव इनकम पर डिपेंड रहते है और इसलिए वे कभी लम्बे समय के लिए अमीर नहीं बन पाते है.

अंग्रेगी में एक कहावत है –

“If You Don’t Know Making Money While You Sleep,

You Never Get Rich.”

यानी कि, अगर आप सिर्फ एक्टिव इनकम पर डिपेंड है, आप पैसे तभी कमाते है जब आप काम करते है.

और आपके पास दूसरा कोई इनकम का जरिया नहीं है तो इस बात की पूरी गारंटी है कि आप कभी अमीर नहीं बन सकते है |

तो ऐसा हो सकता है, कि आप ज़िंदगी भर के लिए कड़ी से कड़ी मेहनत यानी केबल हार्ड वर्क करते रह जायेंगे, लेकिन कभी अमीर नहीं बन पायेंगे.
और इसलिए हमारे देश की 90% से भी अधिक आवादी कड़ी मेहनत करने के बाबजूद गरीब के गरीब ही रह जाते है.

क्योकि वो जिन्दगी भर सिर्फ कड़ी मेहनत ही करते रह जाते है.
वो सभी एक ही तरह से पैसे कमाना सीख पाते है एक्टिव इनकम ( Active Income )

एक्टिव इनकम कमाने वाले अमीर क्यों नहीं बन सकते?

एक्टिव इनकम कमाने वाले लोग जब काम करना बंद कर देते है, तो उनके बचत का सारा पैसा धीरे-धीरे बीमारी या ऐसे ही अन्य तरीकों से खर्च होने लगता है |
और अंत में उनके पास पैसा बचता ही नहीं है और ना ही कोई ऐसा इनकम सोर्स होता है जहाँ से उनको काम नहीं करने के बाबजूद पैसा मिले.

TYPES OF INCOME: 2.पैसिव इनकम (Passive Income)

पैसिव इनकम एक्टिव इनकम के बिल्कुल उल्टा होता है.
पैसिव इनकम वो इनकम होता है जिसमें आपका एक्टिव रूप से काम करना जरूरी नहीं होता है.

पैसिव इनकम में आपके द्वारा बनाया गया बिज़नस का सिस्टम आपके लिए काम करता है.
और आपके एक्टिव रूप से काम नहीं करने के बाबजूद आपको बैठे-बैठे निश्चित समय पर इनकम मिलता ही रहता है.

जैसे – आपने एक होटल शुरू किया और बाद में उस होटल में एक सिस्टम बना दिया, एक मेनेजर रख दिया,

और आप आप घर बैठे है और आपके पीछे आपके होटल का सिस्टम सही तरह से काम करता है.

जिसको आप अपने मेनेजर की मदद से आराम से बिना एक्टिवली काम करते हुए अच्छी तरह से संभाल रहे हो और बहुत अच्छी इनकम या कमाई कर रहे हैं.

और इसी तरह ऐसा कोई भी बिज़नस, ऐसा कोई भी काम जहा से आपको इनकम तो मिलता है, लेकिन उस इनकम के लिए आपको एक्टिव रूप से काम नहीं करना पड़ता.

तो इस तरह की इनकम को पैसिव (Passive Income ) कहा जाता है.

इसके अलावा पैसिव इनकम के कुछ और भी उदाहरण है

जैसे – Internet Business (Affiliate Marketing, Google Adsense Income, Youtube, Blooging Income),

रियल स्टेट बिज़नस ( घर, प्लाट, मकान, दुकान ) से मिलने वाले किराये की इनकम भी पैसिव इनकम हो सकती है अगर आपको रेगुलर मिलता है .

TYPES OF INCOME: 3. पोर्टफोलियो इनकम (Portfolio Income)

पोर्टफोलियो इनकम काफी हद तक पैसिव इनकम ही है.
पोर्टफोलियो इनकम में आपका पैसा आपके लिए काम करता है,

जैसे – आपके अच्छे इन्वेस्टमेंट, बैंक में जमा पैसा, गोल्ड, बांड्स, कमोडिटीज, स्टॉक मार्किट इन्वेस्टमेंट, म्यूच्यूअल फण्ड इन्वेस्टमेंट आदि.

यानी जब आप अपने पैसों को ऐसी जगह पर इन्वेस्ट करते है, जहाँ से आपको एक रेगुलर इनकम मिलने की उम्मीद होती है तो इस तरह की इनकम को पोर्टफोलियो इनकम कहते है.

SUMMARY: TYPES OF INCOME ( सारांश )
दोंस्तों अब आप समाच चुके है की इनकम तीन तरह का होता है और एक्टिव इनकम के कारण ही ज्यादातर लोग हार्ड वर्क करने के बाबजूद जिन्दगी में कुछ ख़ास नहीं कर पाते है.
साथ ही आपको इस पोस्ट से ये जरूर समझ आया होगा कि –

अगर आप भी अमीर बनना चाहते है तो आपको किस तरह की इनकम के लिए काम करना चाहिए, ताकि आप भी पैसे की समस्या को हमेशा के लिए ख़त्म कर सकों.

उम्मीद करता हूँ ये पोस्ट टाइप ऑफ़ इनकम आपको जरूर पसंद आया होगा

और आप इसे लायक करके अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करेंगे और आपने विचार मुझे नीचे कमेंट में लिखकर जरूर बताये.
पूरा पोस्ट पढ़ने के लिए आपका धन्यबाद!

लेखक : SPSINGH

 

समाज सेवी संस्था के साथ जुड़कर सफल होना बहुत ही आसान होता है | लेकिन तब जब आपका हृदय भी समाज की सेवा करने का हो | यदि आप सच्चे मन से समाज की सेवा करना चाहते है तो सफलता पाना कोई मुस्किल काम नहीं है | आपकी समाज की सेवा करने की इच्छा ही आपको आपके जीवन में सफल बना देगी |

SPLCWO के साथ सफलता कैसे प्राप्त करें? How to Get Success with SPLCWO?

आपने एक कहावन तो सुनी ही होगी जो एक महान MOTIVATIONAL स्पीकर ने बोला है –

अमीर लोग कोई अलग काम नहीं करते है | वो हर काम को अलग तरीके से करते है ||  शिव खेड़ा ||

ये दो लाइन शिव खेड़ा जी की है | जिन्होंने एक से बड़कर एक किताब लिखी है जिनको पढ़कर आज लाखों लोगों ने अपनी जिन्दगी को बदला है | इन दो लाइन को पढ़ाने का मेरा तात्पय केबल इतना ही है | अगर आपको सफलता चाहिए तो आप ये मत सोचिये की आपको कोई अलग काम करना होगा | आप अगर अलग काम की तलास में रहेंगे की कोई ऐसा काम मिले जो मुझे अमीर बना दे तो आपको आपके पूरे जीवन में ऐसा कोई काम नहीं मिलेगा |

आपको अपना काम बदले की जरूरत नहीं है | आपको केबल ये जानने की की जरूरत है की जो भी काम आप अभी करते है | उसको आप कैसे और बेहतर तरीके से कर सकते है | जिस तरीके से कोई और नहीं करता है |

अपनी अलग पहचान बनाये | Create your own identity.

अगर आपको अपने जीवन में कामयाब होना है तो आपकी पहचान आपके काम से बननी चाहिए | जब तक आपकी पहचान नहीं बनेगी जब तक आप सफल नहीं हो सकते है | आपको अधिक पैसे कमाने पर ध्यान नहीं देना है | बल्कि ऐसा काम करना है जिससे लोगों में आपकी एक पहचान बनती जाएँ | आपकी पहचान ही आपको अमीर और सफल बनायेंगी |

इस दुनियां में जितने भी अमीर लोग है उन सभी ने कोई न कोई ऐसा काम किया है | जिसकी बजह से आज पूरी दुनियां उनको जानती है | और आज उनकी अपनी एक पहचान बन चुकी है | उनकी पहचान ही तो उनको सफल और अमीर बना रही है |

SPLCWO से अपनी पहचान कैसे बनायें ?

अब बात आती है की आप किस प्रकार आप अपनी संस्था “स्पेशल चाइल्ड वेलफेयर आर्गेनाईजेशन” (SPLCWO) से एक पहचान बना सकते है | ये संस्था सभी को अपनी पहचान बनाने का मौका देती है | जिसके लिए संस्था के अपने अनेक प्लेटफार्म है |जिनके द्वारा आप अपने छुपे हुए टेलेंट को जनता तक पहुंचा सकते है | यदि आपका टेलेंट जनता को पसंद आता है तो आपके पास पैसे भी आना शुरू हो जायेगा | जिससे आपकी एक पहचान भी बन जाएगी और आपको अमीर बनाने के लिए पैसा भी मिल जायेगा |

संस्था के 24 YouTube चैनल है और 12 वेबसाइट है | जिनके द्वारा आप अपने काम को जनता तक वीडियो बनाकर या ब्लॉग पोस्ट लिखकर पहुंचा सकते है | यदि आप इस प्रकार के प्लेटफार्म को तैयार करेंगे तो उसमें आपका बहुत पैसा लगेगा और समय भी व साथ में आपको बहुत लोगों को अपने प्लेटफार्म से जोड़ना पड़ेगा | लेकिन यहाँ पर संस्था की तरफ से संस्था के साथ जुड़े लोगों को सब कुछ फ्री में मिल जाता है और आप पहले ही दिन से अपने टेलेंट को वीडियो और ब्लॉग के द्वारा दिखा सकते है और अपनी इनकम शुरू कर सकते है |

संस्था के साथ जुड़ने के लिए आप नीचे दिए लिंक पर क्लिक कीजिये |

SPL STUDY रजिस्ट्रेशन लिंक
SPLCASH रजिस्ट्रेशन लिंक