आपको जानकर हैरानी होगी कि मोदी सरकार पर आए दिन कुछ न कुछ विवाद खड़ा होता है वजह है कि इस सरकार ने जब से अच्छा काम करना शुरू किया तब से विवादों में घिरे हुए है चलिए हम आपको बताते है क्या है वजह…..
जब महाराष्ट्र में नया आधार लिंक हुआ तब 10 लाख गरीब गायब हो गए।
उत्तराखंड से भी BPL फर्जी गरीब समाप्त हो गए।
3 करोड़ LPG फर्जी गैस कनेक्शन पर आफत आ गया।
मदरसों में 1,95,000 स्कॉलरशिप लेने वाले फर्जी गरीब बच्चे गायब हो गए।
1,00,50,000 फर्जी राशनकार्ड धारी गरीब समाप्त कर दिए गए।
जब देश के काली कमाई करने वालों गद्दारों पर काली घटा मंडराने लगे तो मिलकर सुप्रीम कोर्ट में आधार लिंक मौलिक अधिकार हनन का याचिका दायर करना ऐसे लोगों का क्या मौलिक अधिकार।
3 लाख से ज्यादा फर्जी कंपनी को बंद करवा दिया।
फर्जी राशन डीलर दुकान बंद हुआ।
संपत्ति खरीद-बिक्री करने वाले नराज होने लगे।
ऑनलाइन वर्किंग होने से बिचौलिये नाराज होने लगे।
40,000 से ऊपर फर्जी NGO बंद होने से उनके CMD नाराज होने लगे।
2 नम्बरी कमाई करने वाले व्यापारी नाराज होने लगे।
E-tender होने के कारण ठेकेदार पर आफत आने लगे।
गैस कंपनी वाले में नाराजगी स्वाभाविक है।
12 करोड़ से भी ज्यादा incomtex के दायरे में आये नाराजगी का कारण बनता है।
GST सिस्टम आने के कारण व्यापारी वर्ग को AUTOMATIC सिस्टम का प्रयोग करना पड़ रहा है।
2 नंबर और ब्लैक money को white करने वाले लोग नाराजगी जताने लगे।
आलसी, कामचोर सरकार लोकसेवकों को अब बॉयोमेट्रिक्स सिस्टम से समय पर duty जाना पड़ रहा है।
जो लोग कमीशनखोरी,रिश्वतखोरी से अपनी जिंदगी की गाड़ी खींच रहे थे तो स्वाभाविक है नाराज होना । भारत देश बदल रहा है। हमे भी देश की हर पहलू पर कंधे से कंधे मिलाकर चलने की आवश्यकता है। देश में जब हर तरफ से विकास की उलगुलान उठे तब हम साथ-साथ है। जय हिंद जय भारत