News

मोदी सरकार पे नाराजगी की वजह क्यों ?

 

आपको जानकर हैरानी होगी कि मोदी सरकार पर आए दिन कुछ न कुछ विवाद खड़ा होता है वजह है कि इस सरकार ने जब से अच्छा काम करना शुरू किया तब से विवादों में घिरे हुए है चलिए हम आपको बताते है क्या है वजह…..
जब महाराष्ट्र में नया आधार लिंक हुआ तब 10 लाख गरीब गायब हो गए।
उत्तराखंड से भी BPL फर्जी गरीब समाप्त हो गए।
3 करोड़ LPG फर्जी गैस कनेक्शन पर आफत आ गया।
मदरसों में 1,95,000 स्कॉलरशिप लेने वाले फर्जी गरीब बच्चे गायब हो गए।
1,00,50,000 फर्जी राशनकार्ड धारी गरीब समाप्त कर दिए गए।
जब देश के काली कमाई करने वालों गद्दारों पर काली घटा मंडराने लगे तो मिलकर सुप्रीम कोर्ट में आधार लिंक मौलिक अधिकार हनन का याचिका दायर करना ऐसे लोगों का क्या मौलिक अधिकार।
3 लाख से ज्यादा फर्जी कंपनी को बंद करवा दिया।
फर्जी राशन डीलर दुकान बंद हुआ।
संपत्ति खरीद-बिक्री करने वाले नराज होने लगे।
ऑनलाइन वर्किंग होने से बिचौलिये नाराज होने लगे।
40,000 से ऊपर फर्जी NGO बंद होने से उनके CMD नाराज होने लगे।
2 नम्बरी कमाई करने वाले व्यापारी नाराज होने लगे।
E-tender होने के कारण ठेकेदार पर आफत आने लगे।
गैस कंपनी वाले में नाराजगी स्वाभाविक है।
12 करोड़ से भी ज्यादा incomtex के दायरे में आये नाराजगी का कारण बनता है।
GST सिस्टम आने के कारण व्यापारी वर्ग को AUTOMATIC सिस्टम का प्रयोग करना पड़ रहा है।
2 नंबर और ब्लैक money को white करने वाले लोग नाराजगी जताने लगे।
आलसी, कामचोर सरकार लोकसेवकों को अब बॉयोमेट्रिक्स सिस्टम से समय पर duty जाना पड़ रहा है।
जो लोग कमीशनखोरी,रिश्वतखोरी से अपनी जिंदगी की गाड़ी खींच रहे थे तो स्वाभाविक है नाराज होना । भारत देश बदल रहा है। हमे भी देश की हर पहलू पर कंधे से कंधे मिलाकर चलने की आवश्यकता है। देश में जब हर तरफ से विकास की उलगुलान उठे तब हम साथ-साथ है। जय हिंद जय भारत

Share it on

25 Comments

  1. sunilkumar257890 / February 13, 2018

    Nice h

    • mer manish bhai shiva bhai / February 27, 2018

      manish

  2. SANWARMAL GODARA / February 13, 2018

    जोरदार सर

    • PRAMOD SETH / February 21, 2018

      थैंक्स

  3. computerknowledgehub33 / February 13, 2018

    सही बात है सर

  4. pramodutkarshbarh / February 13, 2018

    धन्यवाद प्रमोद सर आपने तो पूरा काला चिट्ठा खोलकर रख दिया |परिवर्तन जरूरी था, भारत जो विश्व का गुरू था, राजनेताओं ने राजलोलुपता के कारण इसकी गरिमा को गर्त में ला दिया था |मोदी सरकार इसी को सुधारने में लगे हुए हैं |

    • PRAMOD SETH / February 13, 2018

      Thanks

      • satpalswami2712 / February 21, 2018

        Sir ji muge blog karna nhi aata aap meri saytA kro please call me 7023456236

        • PRAMOD SETH / February 21, 2018

          आप सबसे पहले spllivelearning@gmail. com पर एक mail भेजिए की आप blog लिखना चाहते है फिर आपको एक portol दिया जाएगा आप उसपर लिख पाएंगे

  5. Kristal / February 13, 2018

    Sir aap ka aartical bahut achha hai sir blogging ke liye Kaha likhna padta hai please Bataye.

    • PRAMOD SETH / February 13, 2018

      सबसे पहले sir को msg कीजिये ईमेल पर तब आपको एक लिंक मिलेगा उसके बाद आप ब्लॉग लिख सकते है

    • PRAMOD SETH / February 21, 2018

      थैंक्स

    • mer manish bhai shiva bhai / February 27, 2018

      manish

  6. kanikag586 / February 13, 2018

    ठीक कहा सर आपने

    • PRAMOD SETH / February 21, 2018

      थैंक्स

  7. Pralay / February 14, 2018

    बिलकुल सही बात

  8. Rajesh Kumar tiwari / February 17, 2018

    Very nice sir

  9. Kusumakar / February 19, 2018

    Very nice.

    • PRAMOD SETH / February 21, 2018

      थैंक्स

  10. INDRAJEET KUMAR / February 23, 2018

    मोदी जी पहला और आखरी DIGITAL INDIA का चोर होगा जो चोरी कर रहा है और करवा रहा है और किसी को पता चलने नहीं दे रहा है… बस डिजिटल इंडिया का नाम देकर बैंक का चाकर कटवा रहा है.

  11. INDRAJEET KUMAR / February 23, 2018

    हमारे मोदी जी हमारे देश को पुनः गुलाम करने के रास्ता बना रहे हैं रोजगर तो दे नहीं रहे हैं बस जो है उसे भी डिजिटल INDIA बोल कर बैंक और ऑफिस के चक्कर मे उलझा कर देशवासियों को बर्बाद कर रहे हैं…. TU अब ENGLAND जा MODI तेरा काम खतम है अब…

  12. Mithun singh / February 26, 2018

    Nice

  13. LALIT KUMAR SHUKLA / March 2, 2018

    PRAMOD JI ,ARTICLE PARKAR ACHA LAGA.

  14. Gurmit Singh / April 4, 2018

    Right sir

    • Gurmit Singh / April 4, 2018

      You are right sir

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *